ऑनलाइन क्लास के बहाने पोर्न देख बच्चों ने किया 7 साल की बच्ची का गैंगरेप - Aawaz India News
  • Sun. Feb 25th, 2024

Aawaz India News

सत्य आपके सामने

ऑनलाइन क्लास के बहाने पोर्न देख बच्चों ने किया 7 साल की बच्ची का गैंगरेप

Byadmin

Feb 5, 2022

छत्तीसगढ़ के अंबिकापुर में 7 साल की बच्ची से दुष्कर्म का चौंकाने वाला मामला सामने आया है। यह दुष्कर्म भी बच्ची के परिवार के 6 नाबालिग लड़कों ने किया। ये नाबालिग लड़के उसके चचेरे भाई और दूसरे करीबी रिश्तेदार हैं और इनकी उम्र 7 से 13 साल है। पूछताछ में इन बच्चों ने बताया कि उन्होंने मोबाइल पर देखकर यह सीखा। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस का कहना है कि खेल-खेल में ही बच्चों ने इस घटना को अंजाम दिया।

अश्लील वीडियो देखकर किया रेप

परिजनों ने पुलिस को बताया कि ये सभी मोबाइल में अश्लील वीडियो देखकर उसके साथ करीब पिछले डेढ़ महीने से रेप कर रहे थे। पहले पीड़ित बच्ची के परिजनों ने रिपोर्ट दर्ज कराई, लेकिन शुक्रवार शाम को बच्ची की मां-दादी परिवार के दबाव में रिपोर्ट वापस लेने गांधीनगर थाने पहुंच गए। जहां से उन्हें पुलिस ने वापस भेज दिया। परिजनों के बार-बार पूछताछ में इस बात की जानकारी लगी कि ये सब कुछ डेढ़ महीने से चल रहा था। लड़की के परिजनों ने गुरुवार को इस मामले में शिकायत की थी।

ऑनलाइन क्लास के लिए दिया था मोबाइल

आरोपियों में सबसे बड़े 13 साल के लड़के के मोबाइल में पुलिस को ढेरों अश्लील वीडियो मिले हैं। दूसरे बच्चे भी इस मोबाइल से ये वीडियो देखते थे। इन लोगों ने सबसे छोटे 6 साल के बच्चे को भी ये वीडियो दिखाया और उससे ऐसा करने को कहा। पुलिस पूछताछ में परिजनों ने बताया कि बच्चों को मोबाइल ऑनलाइन क्लास के नाम पर दिया था। फिर उस मोबाइल पर किसी ने नजर नहीं डाली। संयुक्त परिवार में बहुत बच्चे होने के कारण यह भी ध्यान नहीं दिया कि बच्चे मोबाइल में क्या देख रहे हैं।

तीन महीने पुरानी है घटना

वहीं इस मामले पर पुलिस का कहना है कि एक सात साल की नाबालिग बच्ची के साथ गैंगरेप का मामला सामने आया है. इस घटना को अंजाम 7 से 13 साल के लड़कों ने दिया. मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. यह घटना दो तीन माह पूर्व की बताई जा रही है. बच्चों ने पूछताछ में बताया कि उन्होंने मोबाइल में वीडियो देखकर यह सीखा.बच्चे मोबाइल पर किस तरह का वीडियो देख रहे थे. इसकी भी जांच की जा रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *